Breaking News

जैन तीर्थ नैनागिरि में पंच दिवसीय मेला हुआ प्रारंभ बुधवार को रथयात्रा जलविहार और गुरुवार को भजन संध्या का होगा आकर्षण

 बुंदेलखंड की पर्वतमाला में स्थित भगवान पार्श्वनाथ की समवशरण स्थली , वरदत्तादि पंच ऋषिराजों की मोक्ष स्थली श्री दिगंबर जैन सिद्धक्षेत्र रेशंदीगिरि नैनागिरी तहसील बकस्वाहा जिला छतरपुर म.प्र. में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी पंच दिवसीय वार्षिक मेला एवं नूतन वर्षाभिनंदन महोत्सव संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज की परम शिष्या आर्यिका श्री प्रशांतमति माताजी ससंघ के सानिध्य में सोमवार 28 दिसंबर को प्रातः भगवान पारसनाथ का महामस्तकाभिषेक एवं विविध कार्यक्रमों के साथ शुभारम्भ हो गया है । जिसका समापन 1 जनवरी 2021 को होगा ।

     जैन तीर्थ नैनागिरि की ट्रस्ट कमेटी के उप मंत्री राजेश रागी ने बताया कि इस पंच दिवसीय कार्यक्रम में प्रतिदिन प्रातः पूजन विधान तथा भगवान पारसनाथ का महामस्तकाभिषेक , सायं महाआरती , शास्त्र प्रवचन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम किए जाएंगे , इस अवसर पर घर बैठे भी महामस्तकाभिषेक कलश की स्वीकृति देकर करवा सकते है। इस मांगलिक कार्यक्रम में विशेष रूप से 30 दिसंबर बुधवार के दोपहर 1:30 बजे से रथयात्रा एवं जलविहार और 31 दिसंबर बुधवार की रात्रि संगीतमय भजन संध्या का कार्यक्रम संपन्न कराया जाएगा । समस्त कार्यक्रम कोविड-19  की गाइडलाइन का पालन करते हुए संपन्न कराये जायेगे । इस महोत्सव मे ब्र. विनय भैया सुनवाहा भोपाल ,पं.अशोक सिंघई,पं.शिखरचंद्र बम्हौरी सहित अनेक विद्वानों का निर्देशन और संगीतकार सौरभ "सिध्दार्थ" एण्ड पार्टी कोटा राज. का संगीत रहेगा ।

इस अवसर पर ट्रस्ट अध्यक्ष सुरेश जैन आई ए एस, प्रबंध समिति अध्यक्ष डा. पूर्णचन्द्र, मंत्री दामोदर सेठ,जयकुमार सहित कमेटी ने पधारने की अपील की है।


प्रकाशनार्थ संलग्न फोटो सहित

🙏 राजेश रागी पत्रकार बकस्वाहा



No comments