Breaking News

श्री गणेश (निजी) आई. टी. आई. में सामूहिक हवन व यंत्रों का पूजन हुआ मोदी जी के जन्मदिवस पर सेवादिवस के रूप में स्वच्छता अभियान चलाया:

 नौगॉंव! आज यानी 17 सितंबर 2020 को विश्व कर्मा जयंती मनाई गई। समिति की सचिव श्रीमती आशा रावत ने कहा कि इस दिन विश्वकर्मा जी को दुनिया का पहला इंजीनियर और वास्तुकार माना जाता है. इसलिए इस दिन उद्योगों, फैक्ट्र‍ियों और हर तरह के मशीन की पूजा की जाती है. उनहोंने कहा कि भगवान विश्वकर्मा ने ही देवताओं के लिए अस्त्रों, शस्त्रों, भवनों और मंदिरों का निर्माण किया था. विश्वकर्मा ने सृष्टि की रचना में भगवान ब्रह्मा की सहायता की थी, ऐसे में इंजीनियरिंग काम में लगे लोग उनकी पूजा करते हैं. यह पूजा सभी कलाकारों, बुनकर, शिल्पकारों और औद्योगिक घरानों द्वारा की जाती है. आज श्री गणेश आई टी आई में विश्वकर्मा जयंती, विधि विधान से पूजा कर घर प्रशिक्षणार्थियों के सुख-समृद्धि की प्रार्थना की गई।समिति के  संयुक्त सचिव सुनील रावत ने कहा कि 

भगवान विश्वकर्मा के पूजन-अर्चन किए बिना कोई भी तकनीकी कार्य शुभ नहीं माना जाता. इसी कारण विभिन्न कार्यों में प्रयुक्त होने वाले औजारों, कल-कारखानों में लगी मशीनों की पूजा की जाती है. डॉ. अजीत जायसवाल जी ने इस अवसर पर भगवान विश्वकर्मा के चित्र पर पुष्पॉंजलि अर्पित की।वराह पुराण के अनुसार ब्रह्माजी ने विश्वकर्मा को धरती पर उत्पन्न किया. वहीं विश्वकर्मा पुराण के अनुसार, आदि नारायण ने सर्वप्रथम ब्रह्माजी और फिर विश्वकर्मा जी की रचना की. 

इस अवसर पर संस्था के अधीक्षक श्री सुनील खरे ने अतिथियों का स्वागत करते हुये कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की।इस वर्ष कोरोना के कारण मास्क व सेनेटाइजर के बीच जयंती मनाई जा रही है।प्रधानमंत्री श्री मोदी जी के 71वें जन्मदिवस पर संस्था के शिक्षक व पदाधिकारियों ने झाड़ू लगाकर स्वच्छता ही सेवा का संदेश दिया।श्री मती नीलम खरे,  पाठक, जगन्नाथ पाटकार, तिवारी जी सहित नीलकंठ संकल्प समिति के पदाधिकारी, कार्यकर्ता एवं प्रशिक्षणार्थी उपस्थित रहे।




No comments