Breaking News

45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण कराने समाज भी आगे आए लोगों सेे बात करते समय, निकटता नहीं दूरी बनाए रखने में समझदारी है अफवाह फैलाने वाले मानवीय जीवन के शत्रु हैं

 छतरपुर कलेक्टर श्री शीलेन्द्र सिंह ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण कराने के लिए समाज भी आगे आए। कोविड संक्रमण ने पूरी दुनिया के लोगों पर असर दिखाया है। न दिखाई देने वाला यह मानवीय शत्रु इतना अधिक असरकारी और घातक है कि जिस किसी ने सतर्कता छोड़ी और लापरवाही बरती, वही इसका शिकार हुआ। कोविड संक्रमण उम्र नहीं देखता है। यह हवा से हवा में फैलने वाला सूक्ष्म संक्रमण है, इससे बचने का एक मात्र सबसे अच्छा तरीका है, कोविड टीकाकरण कराना। इसलिए कोविड संक्रमण से बचाव के लिए सुरक्षा के उपाय अपनाते हुए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को ताकतवर बनाने के लिए टीकाकरण कराना जरूरी है। लोगों सेे बात करते समय निकटता नहीं दूरी बनाए रखने, मास्क पहनने, हाथों को धोेने और भीड़ वाले इलाके में नहीं जाने मे ही समझदारी है।

समाज और परिवार के युवा 45 से अधिक उम्र के लोगों का कोविड टीकाकरण कराने के लिए आगे आएं और ऐसे लोग जो अफवाह में आकर टीकाकरण नहीं करा रहे हैं, उन्हें मिल बैठकर समझाएं ताकि एक भी व्यक्ति कोविड संक्रमण की चपेट में नहीं आ सके। समाज के जागरूक व्यक्ति के साथ-साथ सेवाभावी संगठनों के लोग तथा परिवार के ऐसे लोग जो कोविड टीकाकरण करा चुके हैं, वह सब मिलकर दूसरे व्यक्ति की शंका को दूर करें और उन सभी लोगों का टीकाकरण कराएं।


मार्च 2020 से लेकर आज तक की अवधि में कोविड संक्रमण की दो लहर में विश्व भर में लाखों मानवीय जीवन असमय काल के गर्त में समा चुके हैं। इस वैश्विक आपदा से निपटने के लिए विश्व भर में दवा के लिए कोविड टीके का आविष्कार किया गया है। यह बेहद ही कारगर और सुरक्षित है। जिन लोगों ने कोविड टीकाकरण कराया है, उनमें कुछ ही लोगों को हल्का बुखार होता है।


इस बीमारी के चलते मानवीय जीवन को सुरक्षित करने के लिए सरकार को लॉकडाउन से लेकर लम्बे समय तक लिए जनता कर्फ्यू भी लगाना पड़ा, जिससे समाज की आर्थिक गतिविधियों, लॉकडाउन और कर्फ्यू की अवधि में प्रायः बंद ही रहा। समाज और परिवार पर अर्थ संकट गहरा गया। व्यवसायिक गतिविधियां भी ठप्प रही। सरकार ने मानवीय जीवन के सुरक्षा के साथ-साथ आर्थिक गतिविधियों को लोगों के हित में ही चालू किया, जिससे अब सामान्य मानवीय जीवन शुरू हो चुका है। अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम फिर से कोरोना संक्रमण को नहीं फैलने दें और अपनी अर्थव्यवस्था को भी चलाते रहंे। यह भी जरूरी है कि हम सतर्क होकर कोरोना के बचाव के उपाय और व्यवहार को अमल में लाएं और कोविड संक्रमण से सुरक्षित रहें। इसके लिए हमें सावधान रहकर कोविड नियम का पालन करना होगा और मास्क पहनने के साथ-साथ दो गज की दूरी रखनी होगी


सभी दुकानदार टीकाकरण कराएं


कोविड संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है


सावधानी बरतकर ही इसे समाप्त किया जा सकता है


कलेक्टर श्री सिंह ने छतरपुर जिले के सब्जी, फल, किराना विक्रेताओं के साथ सभी प्रकार का लघु एवं मध्यम व्यापार करने वाले लोगों से अपील की है कि कोविड टीकाकरण जरूर कराएं और बगैर मास्क के सामान लेने आने वाले व्यक्ति को सामान नहीं दें, क्योंकि कोविड हवा से हवा में फैलता है। इसलिए इसे रोकने में मास्क सबसे बड़ा सुरक्षित उपाय है। अगर इतनी मुसीबत उठाने के बाद हम फिर भी वही गलती दोहराएंगे तो कोविड संक्रमण फिर से समाज के सभी लोगो को जकड़ लेगा। आज की स्थिति में कोविड संक्रमण कम हुआ है, लेकिन समाप्त नहीं हुआ, इसे समाप्त करने के लिए हम सभी लोगों को सावधान रहते हुए कोविड नियमों का पालन करना होगा।

घर-घर जाकर युवा टोली टीकाकरण के लिए कर रही है प्रेरित

कोविड संक्रमण से मानव जीवन को बचाने के लिए प्रदेश एवं देश के युवा अपनी जान की परवाह नहीं करते हुए दूसरे लोगों की जान की परवाह के लिए गांव एवं शहरों में टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित कर रही है। संकट के इस काल में उनकी सेवा भावना को हमें नही भूलना चाहिए। इसी तरह कोरोना कर्फ्यू काल में समाज के लोगों ने ही भूखे लोगों के लिए खाने का प्रबंध किया। यह सब मानवीय जीवन को बचाने के लिए ही किया गया है। अब हमारी जिम्मेदारी है कि हम उन लोगों के सेवा भाव का सम्मान करे।


No comments