Breaking News

कलेक्टर-एसपी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एसडीएम एवं एसडीओपी थाना प्रभारियों को दिए निर्देश रेत ठेकेदारों को सुरक्षा प्रदान करें

 कलेक्टर छतरपुर श्री शीलेन्द्र सिंह और पुसिल अधीक्षक श्री सचिन शर्मा ने माफियाओं पर शिकंजा कसने और नेस्तनाबूत के लिए मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संयुक्त रूप से जिले के मैदानी अंचलों के अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों तथा संबंधित थाना प्रभारियों से चर्चा की। इस चर्चा में मैदानी अधिकारियों को निर्देश दिए कि नीलामी में वैधानिक रूप से जिन ठेकेदारों द्वारा रेत के ठेके लिए गए हैं ऐसे वैध ठेकेदारों को सुरक्षा प्रदान करते हुए उनका संरक्षण किया जाए और रेत के अवैध उत्खनन एवं परिवहनकर्ता माफियाओं पर कड़ी कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि ज्वाइंट अभियान चलाने के साथ-साथ अवैध परिवहन की रोकथाम के लिए नाके (चेकपोस्ट) लगाए जाएं। उन्होंने कहा कि शासन की पहली प्राथमिकता है कि ठेका लेकर कार्य करने वाले रेत वैध ठेकेदारों को पूरी सुरक्षा मुहैया कराएं।


उन्होंने कहा कि रेत परिवहनकर्ताओं के वाहन राजसात करने के साथ-साथ संबंधित के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई जाए और खनिज एक्ट में भी प्रकरण दर्ज करें। इसी तरह क्षेत्र के भू-माफियाओं के खिलाफ प्रभावी कार्यवाही कर उन्हें नेस्तनाबूत करें और मिलावटी खाद्य पदार्थ अपराधों से जुड़े व्यक्तियों पर भी सख्त कार्यवाही की जाए। राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को माफियाओं के मकान तोड़े जाने के साथ-साथ आईपीसी की धारा में प्रकरण दर्ज करने के निर्देश भी दिए गए। 

कलेक्टर ने निर्देशित किया कि जो भू माफिया प्लांट तरीके से शासकीय जमीन का कब्जा कर रहे हैं उनके खिलाफ सुनियोजित तरीके से दण्डात्मक कार्यवाही करें। 


यह कार्यवाही पूरे अनुविभाग क्षेत्र में की जाए। इसके लिए राजस्व एवं पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से प्रभावी कार्यवाही को अंजाम दें। इसके अलावा माफियाओं के खिलाफ गुण्डा एक्ट में भी प्रभावी एवं बड़ी कार्यवाही करने में संकोच न करें। भू-माफियाओं के मकान भी सख्ती से तोड़े जाएं।



No comments