Breaking News

19 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग NEWS

 19 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग

➥ अब तक 415 व्यक्ति सकारात्मक सोच के बल पर कोरोना से पा चुके हैं निजात

➥ 80 वर्षीय बुजुर्ग से लेकर 8 वर्ष के बालक तक कोरोना को मत देकर हुए आज डिस्चार्ज 

➥कलेक्टर ने कहा - "जिला प्रशासन का सहोग कर सकारात्मक सोच के साथ करें कोरोना का मुकाबला" 


यदि मन मे दृढ़ संकल्प हो तो कोरोना को बेहद आसानी से हराया जा सकता है। इस बात का प्रत्यक्ष प्रमाण है छतरपुर ज़िले मे कोरोना संक्रमण को परास्त कर चुके 415 मरीज जिन्होंने अपनी सकारात्मक सोच और पूरी हिम्मत के साथ कोरोना का  मुकाबला कर इस बीमारी को परास्त करने में सफलता प्राप्त की है। छतरपुर जिले मे कोरोना को हरा कर ठीक होने वाले मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है। इसी क्रम मे आज 19 व्यक्ति कोरोना संक्रमण से ठीक होकर अपने घर रवाना हुए। स्वस्थ हुए मरीज़ों मे से 4 व्यक्ति महोबा रोड, 3 लवकुशनगर, 4 राजनगर, 3 सटई और 1 नौगांव स्थित कोविड केयर सेंटर से, दो मरीज बीएमसी सागर से, 1-1 भोपाल तथा दिल्ली के निजी अस्पताल से रिकवरी उपरांत डिस्चार्ज किये गए हैं। आज स्वस्थ हुए मरीजों में 80 वर्षीय बुजुर्ग से लेकर 8 वर्ष का बालक तक शामिल है।  कोविड केयर सेंटर प्रबंधन ने सभी स्वस्थ हुए व्यक्तियों को उत्तम स्वास्थ्य की शुभकामनाओं के साथ विदाई दी। डिस्चार्ज हुए मरीजो ने उपचार के दौरान सहयोग करने वाले स्टॉफ और चिकित्सकों का आभार माना। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों और मेडिकल स्टाफ द्वारा उनकी बेहतर देखभाल की गई। समुचित इलाज किया गया। इसके फलस्वरुप वे कोरोना को हराने में सफल हुये।


कलेक्टर श्री शीलेन्द्र सिंह ने डिस्चार्ज हुए सभी मरीजों को बधाई दी और स्वास्थ्य विभाग, समस्त मेडिकल टीम तथा प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा किये जा रहे अथक प्रयासों के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा की कोरोना महामारी के करण हर व्यक्ति डर के माहौल में जी रहा है। लेकिन सच्चाई यह है कि इस वायरस से हमें डरने की नहीं, बल्कि इससे लड़ने की आवश्यकता है। किसी भी प्रकार के लक्षण आने पर तुरंत स्वास्थ्य विभाग एवं ज़िला प्रशासन को सूचित करें। समय पर कोरोना संक्रमण की पहचान एवं उपचार से कोरोना संक्रमित मरीज़ को स्वस्थ करने की सम्भावना बढ़ जाती है, साथ ही सही समय में जाँच हो जाने से सम्बंधित व्यक्ति को आइसोलेट किया जाकर संक्रमण फैलने का ख़तरा भी कम किया जा सकता है। अगर हम सकारात्मक सोच और पूरी हिम्मत के साथ इसका मुकाबला करें तो यह डर हम पर हावी हो ही नहीं सकता, क्योंकि सकारात्मक सोच और मजबूत मन हर परेशानी की चाभी है

No comments